43 जिलों में निकाली जनजातीय कार्य विभाग ने भर्ती

Spread the love

नई दिल्ली, (कैलाश कृपा)। जनजातीय कार्य विभाग ने 43 जिलों में निकाली भर्ती (vacancy) के लिए नई प्रक्रिया शुरू कर दी है जिससे जल्द ही आप ऑनलाईन माध्यम से भर्ती की प्रक्रिया में शामिल हो सकते हैं और निर्धारित प्रारूप के अनुसार अपने डॉक्यूमेंट संलग्न कर सकते हैं। जनजातीय विभाग द्वारा लगभग 43 जिलों के लिए भर्ती की प्रक्रिया जल्द ही शुरू करेगा ।

43 जिलों के स्कूलों में लगभग 10 से 11 हजार पदों पर भर्ती शुरू होने वाली है जिसके अंतर्गत करीब 2500 अतिथि शिक्षकों के लिए और लगभग 8000 सामान्य आवेदकों के लिए रिजर्व रहेगी। भर्ती प्रक्रिया में आगामी समय में कुछ परिवर्तन होने पर जानकारी वेबसाईट पर अपलोड अपलोड की जाएगी।

43 जिलों में निकाली भर्ती जनजातीय कार्य विभाग ने

झाबुआ के नागरिकों के लिए बहुत अच्छी बात यह है कि यहां जनजातीय कार्य विभाग ने अधिकांश तोर पर ज्यादा भर्ती की संख्या रहेगी जो कि अन्य जगहों की तुलना में सर्वाधिक होगी । भर्ती की अनुमानित संख्या जो रहेगी वह धार में लगभग 850, डिंडोरी में 1000 हजार , मंडला में 1000 हजार , अलीराजपुर में 1300 झाबुआ में 1700, बड़वानी में 1700, शहडोल में 550 और खरगोन में लगभग 500 पदों पर इच्छुक नागरकों के लिए शिक्षक भर्ती होगी। अतः इच्छुक शिक्षक उम्मीदवार ऑनलाईन पोर्टल से जानकारी ले सकते हैं ।

43 जिलों में निकाली भर्ती
                              43 जिलों में निकाली भर्ती

 

नियमों में हुआ बदलाव, जनता की जेब पर पड़ेगा सीधा असर

इन जिलों में नहीं रहेगी भर्ती

प्राप्त जानकारी के अनुसार 43 जिलों में निकाली भर्ती में स्कूल शिक्षा विभाग में भी करीब-करीब 18000 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू होगी और उसकी सूची भी जिलेवार जारी हो चुकी है। इस भर्ती की प्रक्रिया में भोपाल इंदौर ग्वालियर जबलपुर जिले से एक भर्ती के लिए एक भी पद शामिल नहीं है

भर्ती की प्रक्रिया पूर्ण करने के लिए महत्वपूर्ण डाॅक्यूमेंट

भर्ती प्रक्रिया में शामिल होने के लिए आपको मुख्य तोर 10वीं की मार्कशीट रहेगी इसी के साथ 12वीं की मार्कशीट और स्नातक की उपाधि होने पर सर्टिफिकेट साथ में लेकर अपने नजदीकी एमपीपोर्टल पर जाना होगा और वहां पर निर्धारित दी गई निर्धारित भर्ती के नोटिफिकेशन के आधार पर अपने डाॅक्यूमेंट को अपलोड करवाना होगा। इसके अलावा आपके नाम में कोई परिवर्तन हुआ हो तो वह भी संशोधित करवा कर अपलोड करना होगा। भर्ती के लिए जो समय सीमा निर्धारित की गई है वह समय सीमा 9 दिसंबर से शुरू की जाएगी।

रिक्त पदों पूर्ण न होने पर

भर्ती होने के लिए कुछ खास निर्देश भी दिए गए हैं जिसके अंतर्गत अतिथि शिक्षकों की 25 प्रतिशत रिजर्व सीट रखी गई है यदि आरक्षित पदों में पूर्ति नहीं होती है तो ऐसी होने की स्थिति में अन्य अभ्यर्थियों द्वारा भी रिक्त पदों की पूर्ति के लिए प्रक्रिया शुरू की जाएगी कुल मिलाकर लगभग 4000 अतिथि शिक्षक के लिए पद रहेंगे और करीब 12000 सामान्य कैडेट्स के लिए पद रहेंगे।